(1)

चलो मेरा ही ख्वाब सजाने चले आओ।।

शाम हो चुकी चेहरा दिखाने चले आओ।

(2)

ख्याले दिल जो है वो जानता हूँ मै।

अपनी हर सांस तुम्हें मानता हूं मै।

(3)

मरकर दिखाए तब तो यकीन होगा।

मेरा दिल अब क्या फलस्तीन होगा।।

(4)

हम भी कुछ इज्जत का ख्याल रखते है।

मोहब्बत में ही अपना पूरा साल रखते है।।

जानते है  सिरफिरे लोगो से पाला होगा।

कदमो में सारा तेरा हुस्ने जमाल रखते है।।

(5)

मेरा हर जवाब सवाल काटता था।

पर वो  था जो नफरते बाटता था।।

मोहब्बत  और  सलीका  छोड़कर।

जख्म देने के सारे खंजर बाटता था।।

(6)

मिला पत्थर दिल लिखना आसान कहाँ था।

उसे खुश  कर  सके ऐसा  समान  कहाँ था।।

बच्चा नही था जो वो खिलोने खेलता यार।

दिल से आजीज मेरे पास समान कहाँ था।।

वख्त ही सब से अहम है और क्यों रुके वो।

टूटी झोपड़ी  थी पक्का  आसमान कहाँ था।।

वो आया और चला गया पर मुझसे पूंछो ना।

निकला नही  दिल  से वो  महमान कहाँ था।।

सलामत  है  जिस्म  मेरा  दिल से  दूरिया है।

चीज उसकी  थी ले  गया बेईमान कहाँ था।।

फुरसत होंगी तो सोचेंगे शान  हम जरा सा।

मारा खंजर उसने तो उसका निशान कहाँ था।।

Best Shayri In hindi 2019

(7)

हर सवाल का जवाब लगते हो।

वाकई तुम लाजवाब लगते हो।।

मेरा छोड़ो न  अब मेरा क्या है।

मेरे दिल का  हिसाब  लगते हो।

(8)

जिंदगी को तुमने रोकर गुज़ारा है क्या।

हर लम्हे में कुछ खोकर गुज़ारा है क्या।।

जब से हुई है मुझसे दूरिया सही बताना।

कोई लम्हा  तुमने  सोकर गुज़ारा है क्या।।

(9)

कटती हिज़्र की राते अजीब लगती है।

दूरिया भी कभी कभी करीब लगती है।।

(10)

आओ  खबर कभी  ये आम होगी।

मेरी चाहत भी कभी बदनाम होगी।।

(11)

हमने भी लोगो का मुकद्दर बनते देखा है।

जहां का सबको सिकंददर बनते देखा है।।

मगर सल्तनत फैलाये ये दिखाओ हमको।

वरना मेने मदारी को कलंदर बनते देखा है

Shayri 2019 | Best Shayri In hindi 2019

Shayri

Techno shan 02

alertnews

18 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here